Farrukhabad News|फर्रुखाबाद कोतवाली के अंदर के क्षेत्र मसेनी गांव में चकबंदी कानूनगो एक किराए के मकान में रह रहे जहां उनकी लाश मिली है लाश की पुष्टि नहीं की जा रही है कि उनकी मृत्यु किस साजिद अथवा किस कारणवश हुई है। बता दे आपको कि जिनके मकान में वो रहते थे जिनका नाम महेंद्र सिंह चौहान को जब यह बात पता चली कि उनके ही किराए के मकान में उनके किरदार की मृत शरीर पाई गई है तो उन्होंने इस घटना को तुरंत ही पास के कोतवाली में कि।

कौन है चकबंदी के कानून का मृत शरीर मिला

Farrukhabad News चकबंदी कांगो अवधेश सिंह चौहान जो की महेंद्र सिंह चौहान के किराए के मकान में रहते थे। उनको सूचना मिली कि उनके किराए के मकान में अवधेश सिंह चौहान तू मृत लाश पाई गई है तो उन्होंने तुरंत पास के कोतवाली में जाकर यह सूचना दी। देर रात ही पुलिस की पूरी फोर्स मौका ए वारदात पर पहुंची। पुलिस ने मृत शरीर को देखा तो वह खर्च पर मुंह के बल लेटा हुआ था उसके मुंह से खून निकल रहा था।

पुलिस ने मौका ए वारदात पर क्या किया

Farrukhabad News जब पुलिस देर रात मौका ए वारदात पर पहुंची तो मृत शरीर को देख। कमरे का बहुत ही अच्छे तरीके से निरीक्षण किया, कोई ऐसी संदिग्ध वस्तु नहीं मिली जिससे किसी चीज का संदेह हो। ये सब देख पुलिस ने फॉरेंसिक टीम को बुलाया, फॉरेंसिक टीम ने कमरे के अंदर से कुछ सैंपल कलेक्ट किए। घटना को लेकर पुलिस जांच पड़ताल के लिए जोरों शोरों से जूती पड़ी है। पुलिस ने उनके परिवार को सूचित किया है।

चकबंदी कानूनगो मैनपुरी का निवासी है

Farrukhabad news कानूनगो अवधेश सिंह चौहान जोकि मैनपुरी के निवासी हैं। मसेनी के किराए के मकान में अकेले ही रहते थे। इस घटना को लेकर उनके परिजन भी बहुत चिंतित अथवा घड़बढ़ाएं हुवे है।

अब बस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है

Farrukhabad News: कोतवाली के विनोद कुमार मिश्रा ने बताया, प्रतीत होता है कि कानूनगो की मौत गिरने से हुई है, लेकिन यह स्पष्ट नहीं बताया जा सकता है कि उनकी यह मौत कैसे हुई है जब तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आ जाता। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही उनकी सही मृत्यु होने का कारण पता चल सकता है। मृत शरीर को पांचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है, रिपोर्ट का इंतजार है।