बॉलिवुड के मशहूर सिंगर और म्यूजिक कंपोजर बप्पी लहिरी (Bappi Lahiri) का मंगलवार (15 फरवरी) देर रात निधन हो गया है। वह 69 वर्ष के थे। डॉक्टर ने बताया कि उन्होंने मुंबई के हॉस्पिटल में आखिरी सांस ली। बप्पी दा ने 80 90 के दशक में कई फिल्मों में ब्लॉकबस्टर गाने दिए और अलग पहचान बनाई।

बप्पी लहिरी को बीते साल अप्रैल में मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तब वह कोरोना की चपेट में आ गए थे। हालांकि कुछ दिनों में ही वह ठीक भी हो गए थे। इस वक्त वह मुंबई के Criticare अस्पताल में भर्ती थे।

डॉक्टर बोले- कई हेल्थ इशूज से जूझ रहे थे बप्पी दा
पीटीआई ने बप्पी लहिरी के निधन की पुष्टि की। वहीं अस्पताल के डायरेक्टर डॉ. दीपक नामजोशी ने बताया कि बप्पी लहिरी एक महीने से अस्पताल में भर्ती थे। उन्हें सोमवार (14 फरवरी) को डिस्चार्ज कर दिया गया था। लेकिन मंगलवार को उनकी हालत बिगड़ गई। बप्पी दा के परिवार ने डॉक्टर को घर पर बुलाया। बप्पी दा को तुरंत ही अस्पताल लाया गया। डॉक्टर के मुताबिक, बप्पी दा हेल्थ संबंधी काफी (Bappi Lahiri health issues) परेशानियों से जूझ रहे थे। उनका निधन OSA (obstructive sleep apnea) के कारण हुआ।

इंडस्ट्री में शोक, फैंस और सेलेब्स कर रहे याद
बप्पी लहिरी के निधन की खबर से पूरी फिल्म इंडस्ट्री में शोक की लहर दौड़ गई है। सोशल मीडिया पर सिलेब्रिटीज और फैंस ‘डिस्को किंग’ को याद कर भावभीनी श्रद्धांजलि दे रहे हैं। किसी को भी यकीन नहीं हो रहा है कि अब बप्पी दा भी इस दुनिया में नहीं हैं। कुछ दिन पहले ही स्वर कोकिला लता मंगेशकर का निधन हो गया था। अभी देश लता जी को खोने के सदमे से उबर भी नहीं पाया था कि अब बप्पी दा हमेशा के लिए अलविदा कह गए।

बप्पी लहिरी का असली नाम आलोकेश लहिरी था। उनका जन्म बंगाल में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। बप्पी लहिरी ने मात्र 3 साल की उम्र से तबला बजाना शुरू कर दिया था। उनकी शुरुआती ट्रेनिंग घर पर माता-पिता ने करवाई। बप्पी लहिरी को ‘डिस्को किंग’ कहा जाता था क्योंकि उन्होंने ही भारतीय सिनेमा में synthesized disco म्यूजिक को पॉप्युलर किया था। बप्पी लहिरी को 2018 में लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से नवाजा गया था। उन्होंने फिल्मफेयर अवॉर्ड भी जीता।