शोधकर्ताओं ने कहा कि उन्होंने महिला के अवशेषों पर रेडियोकार्बन डेटिंग के जरिए जाना कि उसकी मृत्यु 1850 ईसा पूर्व के बीच किसी समय हुई थी ।

बर्लिन (जर्मनी). पुरातत्वविदों को दुनिया का सबसे पुराना आभूषण मिला है. यह जेवरात एक महिला की कब्र में मिले हैं जिसे जर्मनी (Gemany) के तबिन्जेन में 3800 साल पहले दफनाया गया था. माना जा रहा कि जब महिला की मौत हुई थी तब उसकी उम्र 20 साल रही होगी. दरअसल, आर्कियोलॉजिस्ट्स को जेवरात उस वक्त मिले जब वे इसी तरह की कुछ और कब्रों की खोज कर रहे थे. महिला की कब्र में उन्हें जो सोने का आभूषण मिला है वह घुमावदार है. ऐसे में माना जा रहा है कि महिला इसे अपने बालों में बैंड की तरह इस्तेमाल करती रही होगी।

इसे दक्षिण-पश्चिम जर्मनी में पाई जाने वाली सबसे पुरानी सोने की कलाकृति माना जा रहा है. शोधकर्ताओं ने एक बयान में कहा, ‘सोने में लगभग 20% चांदी, 2% से कम तांबा है. साथ ही इसमें प्लेटिनम और टिन के भी निशान हैं. यह कंपोजिशन इस बात का संकेत देता है कि यह सोना इंग्लैंड स्थित कार्नावल में बहने वाली कार्नोन नदी से बहकर जर्मनी तक आया ।

शोधकर्ताओं के मुताबिक, ‘ 3800 साल पहले के समय की कीमती धातु की खोज दक्षिण-पश्चिमी जर्मनी में बहुत दुर्लभ है. यहां सोना पाया जाना इस बात सबूत है कि दूसरी सहस्राब्दी में मध्य यूरोप पर फ्रांस और ब्रिटेन का सांस्कृतिक असर पड़ा. महिला को दक्षिण की ओर दफनाया गया था ।

लाइव साइंस की एक रिपोर्ट के अनुसार ट्यूबिंगन विश्वविद्यालय में प्रोफेसर रायको क्रॉस ने बताया कि शोधकर्ताओं को महिला के अवशेषों पर किसी चोट के निशान या बीमारी का कोई सबूत नहीं मिला, इसलिए उन्हें पता नहीं है कि उसकी मौत कैसे हुई ।

शोधकर्ताओं ने कहा कि उन्होंने महिला के अवशेषों पर रेडियोकार्बन डेटिंग के जरिए पाया कि उसकी मृत्यु 1850 ईसा पूर्व के बीच किसी समय हुई थी. 1700 ईसा पूर्व तक दक्षिण-पश्चिम जर्मनी में राइटिंग का चलन नहीं था. ऐसे में इस बात का कोई लिखित रिकॉर्ड नहीं है जिससे यह पहचानने में मदद हो सके कि महिला कौन थी ।

News Source : https://hindi.news18.com/news/nation/gold-ornaments-found-in-3800-years-old-tomb-3602692.html

By admin

Comment

You missed