महामारी के कारण राजधानी दिल्ली के सरे काम ठप्प चल रहे हैं। लेकिन सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के निर्माण में ना तो कोविड का असर दिख रहा है और ना ही लॉकडाउन का, जी हाँ राजधानी दिल्ली के सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट का निर्माण कार्य उसी तेजी से चल रहा है जैसे पहले चल रहा था। और काफी तेजी के साथ इसपर काम किया जा रहा है।


आपको बतादें की सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट को आवश्यक सेवाओं के दायरे में रखा गया है। राजधानी दिल्ली में महामारी के कारण कई लोगो की जान जा रही है। लोग अपने से ही सरे नियमो का पालन कर रहे हैं। दरसल इसी बिच दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन का ऐलान कर कोरोना को रोकने का प्रयास कर रही है। और जैसा की आप जानते हैं की कुछ दिन पहले नए संसद भवन का निर्माण कार्य शुरू हुआ था। लेकिन आपको बतादें की ऐसी परिस्थिति होने के बावजूद भी उसके कार्य में कोई रूकावट नहीं आयी है।

दरअसल केंद्र सरकार की 1,500 करोड़ से ज्यादा की परियोजना सेंट्रल विस्टा का कार्य अभी भी कार्यरत है और इसके साथ साथ यहाँ के मजदुर पूरी सुरक्षा के साथ काम कर रहे हैं, और सरे नियमो का पालन भी कर रहे हैं। इन मजदूरों को हर दिन 600 रुपए मजदूरी मिल रही है। दरसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना है कि नए संसद भवन के निर्माण का काम साल 2023 से पहले पूरा हो जाए.आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में इस परियोजना का निर्माण किया जा रहा है।

News source

https://empoweringlive.com/the-work-of-the-new-parliament-house-did-not-stop/