कंपनी ने पहले ही ऑर्बिट में स्टारलिंक के 1200 सैटेलाइट्स लगा दिए हैं. एलन मस्क ने ट्विटर पर एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि, हां इस साल के अंत तक ये सर्विस पूरी तरह चालू हो जाएगी.

एलन मस्क ने कहा है कि, स्पेसएक्स की तरफ से नया स्टारलिंक इंटरनेट सर्विस इस साल के अंत तक लोगों के पास पहुंच जाएगा. ये सर्विस भारत के साथ उन यूजर्स के लिए भी होगी जो दुनिया के रिमोट एरिया में रहते हैं. ऐसे में इसे इस साल के अंत तक लागू कर दिया जाएगा. सैटेलाइट ब्रॉडबैंड कंपनी का कहना है कि वो इंटरनेट स्पीड को डबल कर देगी जो 300 Mbps होगी. स्टारलिंक प्रोजेक्ट के तहत कंपनी फिलहाल 50 से 150Mbps स्पीड का वादा कर रही है.



ऐसे में आनेवाले समय में ये स्पीड दोगुनी हो सकती है जहां 12,000 सैटेलाइट्स की मदद से आपके घर तक इंटरनेट सुविधा आएगी. कंपनी ने पहले ही ऑर्बिट में स्टारलिंक के 1200 सैटेलाइट्स लगा दिए हैं. एलन मस्क ने ट्विटर पर एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि, हां इस साल के अंत तक ये सर्विस पूरी तरह चालू हो जाएगी. आप इसे कहीं भी मूव कर सकते हैं. यानी की एक चलती गाड़ी में भी आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं.

उन्होंने आगे कहा कि, हमें अभी और भी सैटेलाइट्स लॉन्च करने हैं जिससे ये बेहतरीन कवरेज दें. वहीं इसमें कुछ जरूरी सॉफ्टवेयर अपग्रेड्स भी शामिल हैं. स्पेसएक्स ने अमेरिका के रेगुलेटर्स से पूरी जरूरी परमिशन ले लिए हैं जिसमें स्टारलिंक सैटेलाइट इंटरनेट नेटवर्क को बड़े व्हीकल्स जैसे ट्रक और शिप्स में कनेक्ट करने की बात शामिल हैं.

मस्क ने यहां ये भी साफ किया है कि स्पेसएक्स यहां स्टारलिंक सैटेलाइट इंटरनेट नेटवर्क को टेस्ला कार्स के साथ कनेक्ट नहीं कर रहा है. ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि कंपनी का टर्मिनल काफी बड़ा है. ये सिर्फ एयरक्रॉफ्ट, शिप, बड़े ट्रक के लिए ही हैं. स्पेसएक्स फिलहाल भारत में स्टारलिंक का बीटा वर्जन दे रहा है जहां आप 99 डॉलर में इसे प्री ऑर्डर कर सकते हैं. और ये पूरी तरह रिफंडेबल है.

भारत में बुकिंग के लिए क्या करें?

बुकिंग के लिए आपको 99 डॉलर यानी करीब 7200 रुपए खर्च करने होंगे. अगर कंपनी (Starlink Internet Service) सेवा नहीं पहुंचा पाती है, तो पैसा वापस लौटाया जाएगा. कंपनी ने सेवा सीमित रखी है, तो पहले आओ, पहले पाओ के आधार पर सेवा दी जाएगी. कंपनी ने अब तक करीब एक हजार से अधिक सैटेलाइट (Satellite) अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित कर दिए हैं. इसके लिए कंपनी ने 12 हजार सैटेलाइट (Satellite) का नेटवर्क बनाएगी.

News source

https://www.tv9hindi.com/technology/cheaper-internet-service-by-elon-musk-by-the-end-of-2021-621945.html/amp