नोएडा। मतांतरण का रैकेट चलाने वाले दो आरोपितों के पकड़े जाने के मामले की जांच चल रही थी कि अब फेस-2 कोतवाली क्षेत्र में रहने वाली एक महिला ने अपने बेटे दर्श सक्सेना के रिहान अंसारी बनने की शिकायत फेस-2 कोतवाली पुलिस से की है। महिला का दावा है कि उनके बेटे का मतांतरण किया गया है। कोतवाली प्रभारी सुजीत उपाध्याय का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

सेक्टर-93 स्थित गेझा गांव में रहने वाली शिवानी सक्सेना ने बताया कि पहले वह सेक्टर-31 स्थित निठारी गांव में रहती थी। पड़ोस में एक मुस्लिम परिवार रहता था। परिवार के घर बेटे व अन्य लोगों का आना जाना था। दर्श आइटीआइ कर रहा था। उसके साथ मुस्लिम परिवार की एक लड़की भी जाती थी। वर्ष-2018 में दर्श अचानक घर छोड़कर चला गया था। उस वक्त वह 17 वर्ष का था।

बीते दिन उन्होंने पुत्र की फेसबुक चैट खंगाली तो पता चला कि दर्श सक्सेना अब रिहान अंसारी बन गया है। फेसबुक मैसेंजर पर नूरी नाम की एक युवती से चैट करता था। चैट में उसने उनके बेटे से एक लाख लोगों तक अल्लाह का पैगाम पहुंचाने की बात की थी। उन्होंने बताया कि बेटे ने अब फेसबुक और अन्य इंटरनेट मीडिया से अपनी आइडी डिलीट कर दी है। वह कैराना में है।

उधर धर्म रक्षा मंच पटौदी के तत्वावधान में इंछापुरी के प्राचीन शिव मंदिर परिसर में विश्व हिंदू परिषद व सरपंच एकता मंच के जिलाध्यक्ष अजीत सिंह की अध्यक्षता में पंचायत की गई। इस पंचायत में विभिन्न वक्ताओं ने कहा मतांतरण व लव जिहाद की बढ़ती घटनाओं को रोकने के लिए सभी को जागरूक करने की जरूरत है। वक्ताओं ने कहा कि एक विशेष समुदाय के कुछ लोग इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। क्षेत्र में बहुत से लोग किराए पर रह रहे हैं। इनमें रोहिंग्या व कुछ अपराधियों भी हो सकते हैं।

News Source : https://www.jagran.com/uttar-pradesh/noida-ncr-mother-came-to-know-from-facebook-chat-son-became-darsh-saxena-rihan-ansari-read-the-story-of-the-young-man-trapped-in-the-conversion-racket-jagran-special-21767930.html