नोएडा। दिल्ली से सटे नोएडाऔर ग्रेटर नोएडाशहर की बहुमंजिला सोसायटियों के लोगों को बिजली के सिंगल प्वाइंट को मल्टी प्वाइंट कनेक्शन में बदलने के लिए दोबारा शुल्क देना होगा। बावजूद इसके कि सोसायटियों के निवासी फ्लैट खरीदने के दौरान ही बिल्डर को बिजली कनेक्शन का पैसा दे चुके हैं। अब मल्टी प्वाइंट कनेक्शन के लिए उन्हें विद्युत निगम को दोबारा 20,720 रुपये अदा करना होंगे। ऐसे में अधिकतर निवासी मल्टी प्वाइंट के जरिये खुद का कनेक्शन तो चाहते हैं, लेकिन अतिरिक्त शुल्क देने के पक्ष में नहीं हैं। फ्लैट खरीदारों के अनुसार बिल्डर फ्लैट खरीदने के समय बिजली कनेक्शन और मीटर के नाम पर 15 से 50 हजार रुपये तक वसूले कर चुके हैं। खून पसीने की इस कमाई को बिल्डर ने कहां और कैसे इस्तेमाल किया, इसकी कोई जानकारी नहीं। इसलिए दोबारा कनेक्शन के लिए निगम को राशि बिल्डर से मांगनी चाहिए।

निगम को नहीं मिल रहा उपभोक्ताओं का साथ

शासन के आदेश अनुसार मई 2019 से सिंगल प्वाइंट कनेक्शन नहीं दिए जा रहे हैं। वहीं, जिन सोसायटियों में सिंगल प्वाइंट कनेक्शन हैं, उन्हें मल्टी प्वाइंट कनेक्शन में परिवर्तित किया जा रहा है। इस कार्य में निगम के सामने सबसे बड़ी दिक्कत उपभोक्ताओं का ही साथ न देना है। नियमानुसार सोसायटी में कनेक्शन को ¨सगल से मल्टी प्वाइंट कनेक्शन में बदलने के लिए 51 फीसदी लोगों की सहमति चाहिए। निगम इसे लेकर 142 सोसायटियों में सर्वे कर चुका है। 142 सोसायटियों में मात्र 19 ने इसको लेकर सहमति जताई। 57 सोसायटियों ने असहमति जताते हुए कनेक्शन बदलने से मना कर दिया। 66 सोसायटियों की ओर से निगम को काई उत्तर नहीं मिला। जबकि सात सोसायटियों में मल्टी प्वाइंट कनेक्शन की व्यवस्था शुरू की जा चुकी है।

बिल्डर नहीं कर पाएंगे बिजली सप्लाई बाधित

मल्टी प्वाइंट कनेक्शन से बिजली की सप्लाई की जिम्मेदारी विद्युत निगम की होगी। उपभोक्ता भी सीधे विद्युत निगम में ही बिल जमा करेंगे। ऐसे में बिल्डर उपभोक्ता की बिजली सप्लाई बाधित नहीं कर सकेंगे, जबकि पावर बैकअप की आपूर्ति बिल्डर व एओए की जिम्मेदारी होगी।

सोसायटियों के लोग बोले

मल्टी प्वाइंट कनेक्शन हो जाने से बिजली बिल में काफी कमी आएगी। लेकिन जो पैसा पहले दे चुके हैं उसका क्या होगा। निगम को इस संबंध में बिल्डर से जानकारी लेनी चाहिए।– अभिष्ट गुप्ता, सेक्टर-137, पैरामाउंट फ्लोरेविला सोसायटी

बिल्डरों को एक बार पैसा देने के कारण लोग दोबारा बिजली कनेक्शन के लिए आगे नहीं आ रहे। अब स्थिति यह है कि इस बारे में न बिल्डर कोई जवाब देता है और न ही विद्युत निगम।- अमित गुप्ता, सेक्टर-77, प्रतीक विस्टेरिया सोसायटी

सोसायटियों में बिल्डरों ने बिजली कनेक्शन के लिए फ्लैट खरीदारों से कितना शुल्क लिया था, उसका निगम से कोई मतलब नहीं है। मल्टी प्वाइंट कनेक्शन के लिए सोसायटियों में शिविर लगातार लोगों से राय मांगी जा रही है। इसके लिए निर्धारित शुल्क देना अनिवार्य है।-सचिन कुमार, अधिशासी अभियंता

News Source : https://www.jagran.com/uttar-pradesh/noida-ncr-noida-and-greater-noida-consumers-will-have-to-pay-again-for-multi-point-connection-of-electricity-common-man-issues-21791857.html