नई दिल्ली/ग्रेटर नोएडा [अरविंद मिश्रा]। दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने यमुना प्राधिकरण को टर्म ऑफ रेफरेंस (टीओआर) सौंप दी है। डीएमआरसी नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट मेट्रो की संशोधित विस्तृत परियोजना रिपोर्ट डीपीआर तैयार करेगी। ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क दो से दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो की कनेक्टिविटी के लिए व्यावहारिकता रिपोर्ट भी तैयार करेगी। पहली रिपोर्ट नौ माह में तैयार होगी, जबकि दूसरी रिपोर्ट छह माह में तैयार होगी। एयरपोर्ट के शुरू होने के साथ रूट पर मेट्रो सेवा शुरू करने की योजना है। यमुना प्राधिकरण व डीएमआरसी के अधिकारी बैठक जल्द इस पर अंतिम निर्णय लेंगे। पहली डीपीआर में 25 स्टेशन किए थे प्रस्तावित नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को मेट्रो कनेक्टिविटी देने के लिए यमुना प्राधिकरण ने डीएमआरसी से डीपीआर तैयार कराई थी।

डीएमआरसी ने नॉलेज पार्क दो एक्वा मेट्रो स्टेशन से यमुना एक्सप्रेस वे के समानांतर एयरपोर्ट तक मेट्रो कॉरिडोर बनाने का सुझाव दिया था। करीब 35.6 किमी. लंबे कॉरिडोर में 25 स्टेशन प्रस्तावित किए गए थे। करीब 5708 करोड़ रुपये लागत अनुमान लगाया गया था। शासन ने खारिज की थी डीपीआर शासन ने डीएमआरसी की डीपीआर को यह कहते हुए खारिज कर दिया था कि स्टेशन की संख्या अधिक होने के कारण निर्माण लागत अधिक आएगी। इसके साथ ही मेट्रो की रफ्तार कम रहेगी। शासन ने यमुना प्राधिकरण को निर्देश दिया था कि वह संशोधित डीपीआर तैयार कराए। स्टेशन संख्या पांच से छह व रफ्तार 120 किमी प्रति घंटा के हिसाब से डीपीआर तैयार किया जाए।

दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो से कनेक्टिविटी की तलाशी जाएंगी संभावनाएं

दिल्ली अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट व नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को आपस में मेट्रो से जोड़ने के लिए संभावनाएं तलाश की जाएंगी। डीएमआरसी ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क दो मेट्रो स्टेशन से नई दिल्ली एयरपोर्ट एक्सप्रेस को ¨लक करने के लिए व्यावहारिकता रिपोर्ट तैयार करेगी। यह कॉरिडोर करीब 38 किमी लंबा होगा। इस रूट पर स्टेशन, यात्री, एलिवेटेड एवं भूमिगत कॉरिडोर की रिपोर्ट तैयार की जाएगी।

कम स्टेशन के साथ तैयार होगा डीपीआर

नॉलेज पार्क दो मेट्रो स्टेशन से नोएडा एयरपोर्ट तक 35.6 किमी लंबे मेट्रो कॉरिडोर की डीपीआर कम संख्या में स्टेशन के साथ तैयार की जाएगी। इसके साथ ही रूट पर 120 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से मेट्रो दौड़ाने के लिए इसे तैयार किया जाएगा। मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट, यात्री, डिपो, स्टेशन की लोकेशन आदि की जानकारी डीपीआर में होगी। दोनों रिपोर्ट तैयार करने में करीब छह करोड़ रुपये खर्च आएगा।

डीएमआरसी के अफसरों संग बैठक कर जल्द लिया जाएगा फैसला

डॉ. अरुणवीर सिंह (सीईओ, यमुना प्राधिकरण) ने बताया कि डीएमआरसी ने नोएडा एयरपोर्ट मेट्रो के लिए टीओआर दे दिया है। डीएमआरसी अधिकारियों के साथ बैठक कर इस पर जल्द फैसला लिया जाएगा।

News Source : https://www.jagran.com/uttar-pradesh/noida-ncr-delhi-metro-rail-corporation-ready-to-prepare-dpr-of-noida-international-airport-metro-common-man-issues-21741953.html