farrukhabad news

Farrukhabad News : उफनाई गंगा के पानी की धार ने कटान तेजी से शुरू कर दिया है। तीसराम की मड़ैया के निकट कटान शुरू हो गया व गंगा की धार का रुख बरेली हाईवे की ओर मुड़ गया है। जिससे बरेली हाईवे के कटने की आशंका बढ़ गई है। तेजी से जलस्तर बढ़ने से फसलों में बाढ़ का पानी पहुंच गया गया है। जिससे किसान फसलें काटने में जुट गए हैं।

Farrukhabad News Amritpur : गंगा का जलस्तर बढ़ने से तटवर्ती गांव हरसिंहपुर कायस्थ, ऊगरपुर, कुसुमापुर, सबलपुर, तीसराम की मड़ैया, सुंदरपुर, कछुआ गाढ़ा, बंगला, उदयपुर, रामपुर व जोगराजपुर के बाशिदों की धड़कनें बढ़ गई हैं। हरसिंहपुर कायस्थ व तीसराम की मड़ैया में कटान तेज हो गया है। जिससे भयभीत हरसिंहपुर कायस्थ गांव के लोग अपने पक्के मकान तोड़ने में जुट गए हैं। तीसराम की मड़ैया के ग्रामीणों ने झोपड़ियों से अपना सामान समेटना शुरू कर दिया है। गांव के मंजीत व विनोद ने घरों से सामान निकालकर ऊंचे स्थानों की ओर पलायन करना शुरू कर दिया है। जलस्तर तेजी से बढ़ने से फसलों में पानी भर गया है। बाढ़ के पानी से खेत भरने से भयभीत ग्रामीणों ने फसलें काटना शुरू कर दिया है। गौटिया के रामवीर ने बाढ़ के पानी से फसल बचाने के लिए परिवार सहित मेंथा की फसल काटनी शुरू कर दी। तीसराम की मड़ैया गांव से गंगा की धार ने बरेली हाईवे की ओर रुख कर लिया है। बरेली हाईवे से गंगा की धार करीब चार सौ मीटर दूर रह गई है। यदि कटान तेजी से होता रहा तो बरेली हाईवे के कटने की आशंका बढ़ गई है। तहसीलदार संतोष कुमार ने बताया कि गंगा का जलस्तर बढ़ा है, लेकिन किसी गांव में बाढ़ का पानी नहीं पहुंचा है। दो गांवों में कटान होने की सूचना मिली है , लेखपालों को बाढ़ की स्थिति पर नजर रखने के लिए अलर्ट कर दिया गया है।

News Source : https://www.jagran.com/uttar-pradesh/farrukhabad-the-edge-of-the-ganges-bends-near-the-madaya-of-the-third-21763662.html