fbd news

Fbd news (Farrukhabad news) : स्कूलों के कायाकल्प के नाम पर लाखों खर्च कर रही है सरकार लेकिन उसका असर कहीं दिखायी नही दे रहा है । पूर्व माध्यमिक विध्यालय रोहिला मे पानी ऊपर तक भर गया है बच्चे स्कूल तक नही आ पा रहे है । वही स्कूल के ऊपर से निकल रही जर्जर बिजली की लाइन भी मौत की दस्तक जैसी है । नाले का पानी स्कूल मे बह रहा है ।

मध्यमिक विध्यालय रोहिला के पास तालाब है जिसका पानी अक्सर स्कूल मे आ जाता है और जब बारिस होती है तब ये पानी कक्षा के अन्दर तक पहुंच जाता है । प्रिनसिपल महेन्द्र सिंह का कहना है कि देर रात हुई बारिस ने मुश्किलें बढा दी है तालाब का पानी अन्दर घुस आया है । स्कूल मे अभी 2 फीट तक जल भराव है जिससे बच्चो का आना सम्भव नही है । शौचालय के ऊपर से जा रही बिजली की जर्जर लाइन भी बच्चों के लिए खतरा है जिसके वह कई बार जेई से शिकायत कर चुके है लेकिन कोई सुनवाई नही है साथ ही स्कूल में बाइन्ड्रीवाल तक नही है जिससे खतरा और बड़ जाता है । इसके लिए भी उन्होने कई बार शिकायक की है पर कोई कदम नही उठाया गया ।

Also Read This : Farrukhabad News : रक्षाबंधन के दिन करंट लगने से भाई की मौत , बहन ने शव को बांधी राखी-Fbd News (rajnititak.in)

Farrukhabad News Fbd News jni news fbd jni news farrukhabad fbd news today fbd news farrukhabad fbd news farrukhabad today jni news today farrukhabad फर्रुखाबाद न्यूज़ मेरापुर थाना

गंगा का जलस्तर पहुंचा चेतावनी बंदु के पास

Fbd news (Farrukhabad news) : पहाड़ो पर हुई बारिस से नदियों का जलस्तर बढ गया है । पानी चेतावनी के निशान से ऊपर जा रहा है तटवर्ती इलाकों में कटान शुरू हो गया है । बाढ़ के पानी ने गांवो का रूख कर लिया है जिससे ग्रामीण परेशान होने लगे है ।

बुधवार को गंगा का जलस्तर बढ गया , जलस्तर अब चेतावनी बिन्दू के पास 136.50 मीटर पर है । नरौरा बांध से गंगा मे 45980 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है व रामगंगा भी बढकर 134 मीटर पर पहुंच गयी है । जलस्तर बढने से उपजाऊ भूमि नष्ट हो रही है पानी तटवर्ती इलाकों की ओर बढने लगा है । गंगा का पानी बढने से लोग परेशान है लोगो को भारी दिक्कतों का सामना करना पढ रहा है ।

Farrukhabad News Fbd News jni news fbd jni news farrukhabad fbd news today fbd news farrukhabad fbd news farrukhabad today jni news today farrukhabad फर्रुखाबाद न्यूज़ मेरापुर थाना