fbd news

Fbd news (Farrukhabad news) : 97.6 फीसदी अंक पाने वाले छात्र बैष्णव गुप्ता जो रोजी पब्लिक स्कूल के विध्यार्थी है का कहना है कि हमारे देश मे पर्यावरण प्रदूषण व जनसंख्या का बढ़ना प्रमुख समस्या है । जनसंख्या नियत्रण से भी बेरोजगारी का हल किया जा सकता है इसलिए सरकार को इसपर कदम उठाने की जरूरत है । बेटे की सफलता पर पिता का कहना है कि उन्हे अपने बच्चे पर पूरा भरोसा था कि वो अच्छे अंक हासिल करेगा । अंक जानने के लिए उनकी मां वंदना गुप्ता स्कूल पहुच गयी वही वेटे को मिठाई खिलाकर आर्शीवाद दिया । बैष्णव गुप्ता का कहना है कि सरकार ज्यादा से ज्यादा युवाओं की बेरोजगारी पर ध्यान दे साथ ही प्रर्यावरण प्रदूषण से लड़ने के लिए ग्रीन एनर्जी पर फोकस करे । उनका खुद का सपना एयरफोर्स जाइन करने का है ।

Also Read This : Farrukhabad News : Fbd में डीएम ने किया निरीक्षण पंचायत घर मे भर रखी थी मक्का – Fbd News (rajnititak.in)

Farrukhabad News Fbd News jni news fbd jni news farrukhabad fbd news today fbd news farrukhabad fbd news farrukhabad today jni news today farrukhabad फर्रुखाबाद न्यूज़ मेरापुर थाना

Fbd news (Farrukhabad news) : सीबीएसई से 10वी की परीक्षा मे 98.4 फीसदी नम्बर लाने वाले शिवांश राय का कहना है कि कोरोना के कारण स्कूल काफी समय तक बन्द रहे जिससे पढाई का भारी नुकसान हुआ व बच्चे जब स्कूल जाते है तब उनमे अनुसान भी आता है । लेकिन स्कूल न आ पाने के कारण उन्होने घर पर ही अनुसाशन बनाना सीखा और पढाई की । कोरोना के कारण समय भी खूब था जिसकी वजह से वो अच्छी पढाई कर पाए । जिला न्यायलय मे तैनात अपर जिला जज राजेश कुमार राय के बेचे है शिवांश राय । सीबीएससी का रिजल्ट आते ही उनके घर मे खुशी का महौल छा गया । घर मे सभी ने उन्हे मिठाई खिलाकर खुशी मनाई अब बेटे का कहना है कि वो आईआईटी कर परिवार का नाम ऊचा करेगे पर मम्मी की मेहनत सार्थक करेगें ।

Farrukhabad News Fbd News jni news fbd jni news farrukhabad fbd news today fbd news farrukhabad fbd news farrukhabad today jni news today farrukhabad फर्रुखाबाद न्यूज़ मेरापुर थाना

Fbd news (Farrukhabad news) : 98.6 फीसदी अंक पाकर दूसरे स्थान पर रही केन्द्रीय विध्यालय की छात्रा आस्था गौर का सपना भी इंजीनियर बन दिखाने का है । वो भी अपनी मां को गौरव महशूस कराना चाहती है । पांच साल पहले आस्था के पिता का देहांन्त हो गया था जिसके बाद मां ने ही मेहनत कर बच्ची को पढाया । सीलाई के काम से पैसे कमा कर स्कूल की फीस भरी जिससे बच्ची को अच्छी शिक्षा मिल सके । मां के साथ साथ बेटी ने भी पूरी मेहनत की और पढाई मे टाप कर दिखाया । आस्था का कहना है कि पढाई मे तनाव लेना गलत है मैने बिना तनाव के परीक्षा पूरी की । लेकिन कोरोना के कारण परीक्षा ना हो सकी जो कि सरकार का सही निर्णय है ।

Farrukhabad News Fbd News jni news fbd jni news farrukhabad fbd news today fbd news farrukhabad fbd news farrukhabad today jni news today farrukhabad फर्रुखाबाद न्यूज़ मेरापुर थाना