UP Board 10th Exam 2021: कोरोना की दूसरी लहर के चलते सीबीएसई बोर्ड 10वीं कक्षा के एग्‍जाम कैंसिल कर दिए गए हैं. वहीं यूपी बोर्ड ये नहीं कर सकेगा….जानिए- इसके पीछे क्‍या कारण है ।

कोरोना की दूसरी लहर के चलते देशभर के राज्‍यों के बोर्ड एग्‍जाम प्रभावित हुए हैं. सीबीएसई और आईसीएसई सहित ज्‍यादातर राज्‍यों ने दसवीं के एग्‍जाम कैंसिल कर दिए हैं, लेकिन यूपी बोर्ड ने इस पर फैसला नहीं लिया है. इसके पीछे कई वजहें बताई जा रही हैं. जानिए- सके पीछे क्‍या खास वजह है. क्‍यों यूपी बोर्ड दसवीं के छात्रों को प्रमोट नहीं कर रहा ।

बता दें कि सीबीएसई बोर्ड छात्र-छात्राओं को उनके साल भर की मासिक और छमाही परीक्षाओं के प्रदर्शन के आधार पर हाईस्कूल में आसानी से प्रमोट कर सकता है. इसको लेकर सीबीएसई बोर्ड ने रिजल्‍ट की पॉलिसी भी बनाई है. लेकिन वहीं यूपी बोर्ड में ये सुविधा नहीं है ।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की परीक्षा प्रणाली एकदम अलग है. इस प्रणाली में सुधार करने की बात कई बार उठाई जा चुकी है. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की तरह यूपी बोर्ड हाईस्कूल के छात्र-छात्राओं को प्रमोट करने की स्थिति में नहीं है. यूपी बोर्ड के पास स्‍कूल स्तर पर होने वाली वर्षभर की परीक्षाओं का रिकॉर्ड नहीं है।

कहने को सीबीएसई व यूपी बोर्ड का पाठ्यक्रम करीब-करीब समान है लेकिन, दोनों की परीक्षा प्रणाली में बहुत अंतर है. इसलिए सीबीएसई छात्र-छात्राओं के प्रदर्शन के आधार पर हाईस्कूल में आसानी से प्रमोट कर सकता है, लेकिन यूपी बोर्ड के पास ये सुविधा नहीं है ।

यही नहीं यूपी बोर्ड में कक्षा 9 की अर्धवार्षिक व वार्षिक परीक्षा का रिकॉर्ड बोर्ड मुख्यालय तक नहीं भेजा जाता. यूपी बोर्ड में कक्षा नौवीं में मासिक टेस्ट की व्‍यवस्‍था नहीं है. इस बार प्री बोर्ड यानी हाईस्कूल व इंटर परीक्षा से पहले स्कूल स्तर की परीक्षा कराने पर जोर दिया गया. फरवरी में परीक्षा हुई भी हैं लेकिन, उसका रिकॉर्ड बोर्ड के पास नहीं है ।

एक वजह ये भी है कि यूपी बोर्ड में अधिकांश कॉलेज वित्तविहीन हैं, जबकि राजकीय व अशासकीय कॉलेज एक तिहाई ही हैं. ऐसे में जिलों से 9वीं और प्री बोर्ड का रिकॉर्ड इकट्ठा करना संभव नहीं माना जा रहा. अब सीबीएसई के निर्णय के बाद से सरकार व बोर्ड इस पर मंथन कर रही है ।

बता दें क‍ि यूपी बोर्ड कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 20 मई 2021 तक के लिए स्थगित हैं. वहीं, राज्य में बढ़ते कोरोना संकट के बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने 17 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया है. ऐसे में परीक्षाएं रद्द होंगी या स्थगित इसे लेकर सस्पेंस बरकरार है. उम्मीद की जा रही है कि अब जल्‍द ही यूपी बोर्ड की परीक्षाओं (UP Board Exam) पर फैसला लिया जा सकता है ।

यूपी बोर्ड कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 20 मई 2021 तक के लिए स्थगित हैं. वहीं, राज्य में बढ़ते कोरोना संकट के बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने 17 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया है. ऐसे में परीक्षाएं रद्द होंगी या स्थगित इसे लेकर सस्पेंस बरकरार है. उम्मीद की जा रही है कि अब जल्‍द ही यूपी बोर्ड की परीक्षाओं (UP Board Exam) पर फैसला लिया जा सकता है ।

News Source : https://www.aajtak.in/education/news/photo/up-board-exam-2021-10th-board-students-will-not-be-promoted-know-the-reason-tedu-1252576-2021-05-11

Comment

You missed