दूसरे चरण में अगर आप टीकाकरण की तैयारी कर रहे हैं तो ध्‍यान रखें क‍ि कोरोना की दूसरी वेव के चलते हालात काफी खराब हैं. अगर आप टीकाकरण कराने जा रहे हैं तो कुछ बातों का ध्‍यान जरूर रखना चाहिए.

भारत में वैक्‍सीनेशन का दूसरा चरण एक मई को शुरू हो रहा है. पहले चरण में 45 उम्र से अध‍िक उम्र के एक करोड़ 66 लाख से अधिक लोगों को कोविड-19 का टीका लगाया जा चुका है. देश में कोविशील्‍ड और कोवैक्‍सीन के टीके सभी के लगाए जा रहे हैं. अभी तक किसी पर वैक्सीन के गंभीर या प्रतिकूल प्रभाव नहीं देखे गए हैं. कुछ लोगों में हल्के दुष्प्रभाव जरूर देखे गए हैं. दूसरे चरण में अगर आप टीकाकरण की तैयारी कर रहे हैं तो ध्‍यान रखें क‍ि कोरोना की दूसरी वेव के चलते हालात काफी खराब हैं. अगर आप टीकाकरण कराने जा रहे हैं तो कुछ बातों का ध्‍यान जरूर रखना चाहिए. 

हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के प्रेसीडेंट पद्मश्री डॉ केके अग्रवाल का कहना है कि वैक्‍सीनेशन के लिए जाने से पहले विशेष सावधानियां बरतें. आप कोविड-19 के सभी प्रोटोकॉल फॉलो करते हुए ही वैक्‍सीनेशन सेंटर जाएं. घर से एन-95 मास्‍क या डबल मास्‍क पहनकर ही निकलें. साथ में सेनिटाइजर जरूर लेकर जाएं.

वैक्‍सीनेशन सेंटर पर भीड़ में शामिल होने से बचें. अपनी बारी का इंतजार बाहर या अपनी गाड़ी में बैठकर कर सकते हैं. अपनी बारी आने पर ही वैक्‍सीन सेंटर में प्रवेश करें. लोगों से सोशल डिस्‍टेंसिंग जरूर बनाकर रखें. कोश‍िश करें कि वैक्‍सीनेशन सेंटर पहुंचकर बिल्‍कुल भी मास्‍क न उतारें.

अगर आपको किसी दवा से एलर्जी है तो वैक्‍सीनेशन से पहले हेल्‍थ केयर प्रोवाइडर से इस पर डिस्‍कस कर लें. इसके अलावा वैक्‍सीनेशन से पहले अच्छी तरह से खाना खाकर और भरपूर नींद लेना जरूरी है. इसके बाद टीका लगने के बाद भी जितना संभव हो उतना आराम करने की कोशिश करनी चाहिए.

डायबिट‍ीज, ब्‍लडप्रेशर या एंजाइटी है तो पहले इस पर नियंत्रण करें तभी टीका लें. इसके अलावा कैंसर रोगी और कीमोथेरेपी करा रहे लोग डॉक्‍टरी सलाह पर ही टीकाकरण कराएं. जिन लोगों ने कोविड-19 इलाज में प्लाज्मा या मोनोक्लोनल एंटीबॉडी ली है या जो पिछले डेढ़ महीने में संक्रमित हुए हैं, उन्हें सलाह दी जाती है कि वे अभी वैक्सीन न लें.

आपको बता दें कि वैक्सीन सेंटर पर लोगों को कुछ देर के लिए बैठाया जाता है ताकि उन पर क‍िसी तरह के दुष्‍प्रभाव को मॉनीटर क‍िया जा सके. इसके अलावा शरीर के जिस हिस्से पर टीका लगाया गया है, वहां दर्द होना और टीके की वजह से बुखार जैसे दुष्प्रभाव आम हैं. आपको इससे घबराने की कोई बात नहीं है.

अगर टीका लगने पर ठंड लगने और थकान जैसे दुष्प्रभाव दिखें तो भी चिंता न करें, ये बहुत जल्‍द ठीक हो जाएंगे. लेकिन टीका लगने के बाद भी आप कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन जरूर करते रहें. घर से बाहर जब भी न‍िकलें मास्क पहनना न भूलें. इसके अलावा सेनिटाइजर का इस्‍तेमाल और सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन करते रहें. 

पहले टीके के तुरंत बाद यदि कोविड-19 से संक्रमित होते हैं तो  ध्‍यान रखना है कि अभी आपमें पूरी तरह से प्रतिरक्षी तंत्र विकसित नहीं हो पाया है. आप कोविड-19 के लक्षण आते ही इलाज और अन्‍य ऐहतियाती कदम उठाना शुरू कर दें. इसके बाद ठीक होने के बाद 28 दिन के भीतर आप दूसरा टीका जरूर लगवाएं.

News source

https://www.aajtak.in/education/news/photo/if-you-have-to-go-for-covid-19-vaccination-these-10-things-keep-in-mind-tedu-1246138-2021-04-28-2